मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना क्या है? 2023 : Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana

Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana | मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना | cm kisan kalyan yojana | cm kisan kalyan yojana mp | kisan kalyan yojana | mp kisan kalyan yojana | pm kisan kalyan yojana | kisan kalyan yojana 2020

Intro of Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana

Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana :- जैसा की आप सभी व्यक्ति यह जानते हैं कि केंद्र सरकार ने सन 2022 का किसानों की आय दोगुनी करने का लक्ष्य निर्धारित कर दिया है | इसी बात को मद्देनजर रखते हुए राज्य सरकार और केंद्र सरकार समय-समय पर किसानों के लिए कई सारी योजनाएं शुरू करती रहती हैं |

ऐसी एक योजना मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा शुरू की गई है, जिसका नाम भी मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना दिया गया है | प्रिय मित्र आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से इस योजना से संबंधित सारी आवश्यक जानकारी देने के लिए जा रहे हैं | जैसे कि इसकी विशेषताएं, इसके लाभ, इस की पात्रता, उद्देश्य, आवश्यक दस्तावेज, आवेदन करने की प्रक्रिया आदि | तो दोस्तों अगर आप एमपी मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना से संबंधित आवश्यक जानकारी लेना चाहते हैं तो आप से निवेदन है कि आप हमारे इस आर्टिकल को ध्यान पूर्वक अंत तक जरूर पढ़ें |

Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana क्या है?

मध्यप्रदेश में रहने वाले किसानों को इस योजना के तहत सरकार द्वारा दो किस्तों में आर्थिक सहायता दी जाएगी | यह योजना किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार लाने के लिए शुरू की गई है, Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana 2023 के तहत आर्थिक सहायता सीधे किसान के बैंक खाते में ट्रांसफर कर दी जाएगी |

Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana

जिससे कि उनकी परिस्थितियों में कुछ बदलाव आ जाए, इस योजना की जो खास बात है वह यह है कि इस योजना के तहत उन किसानों को भी लाभ की राशि दी जाएगी जो पीएमकिसानसम्मान्निधि से जुड़े हुए हैं | सभी किसान पीएम किसान सम्मान निधि से जुड़े हुए हैं उन्हें इस योजना के लिए अलग से आवेदन करने की जरूरत नहीं पड़ेगी | उनके खाते में पीएम किसान सम्मान निधि योजना राशि के साथ साथ किसान कल्याण योजना की राशि भी ट्रांसफर कर दी जाएगी |

Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana की आर्थिक सहायता-

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री जी किसान कल्याण योजना के तहत सरकार द्वारा मध्य प्रदेश के किसानों को ₹4000 की आर्थिक मदद दी जाएगी | और यह जो मदद है वह आर्थिक सहायता ₹2000 और ₹2000 की दो बराबर किस्तों में दी जाएगी | 3 दिसंबर 2020 को मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान प्रदेश के 500000 किसानों को 100 करोड रुपए की आर्थिक मदद प्रदान करेंगे, लगभग मध्य प्रदेश के 800000 किसानों को इस योजना के जरिए लाभ पहुंचेगा | नसरुल्लागंज से वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से यह घोषणा मुख्यमंत्री द्वारा की जाएगी |

  • 500000 किसानों को पहली किस्त के ₹2000 इस योजना के तहत प्राप्त होंगे |
  • एमपी Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana का लक्ष्य है कि किसानों की आय में वृद्धि करना है |
  • मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, रायसेन, सागर, खंडवा, इंदौर और ग्वालियर के किसानों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए से चर्चा भी करेंगे |
  • इस बातचीत में मुख्यमंत्री किसानों की परेशानियां सुनेंगे और उनका समाधान भी करेंगे |
  • हर एक जिले से लगभग 200 किसान मुख्यमंत्री के साथ इस बातचीत में जुड़ेंगे |
  • इस चर्चा के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ख्याल भी रखा जाएगा |
Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana

की हाइलाइट्स ऑफ एमपी किसान कल्याण योजना-

योजना का नाममध्य प्रदेश मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना
किसने आरंभ कीमध्य प्रदेश सरकार
लाभार्थीमध्य प्रदेश के किसान
उद्देश्य₹4000 की आर्थिक सहायता प्रदान करना।
आधिकारिक वेबसाइटhttps://pmkisan.gov.in/
साल2023

Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana में लॉकडाउन के दौरान पहुंचाई गई सुविधाएं-

जैसे की हम सभी यह जानते हैं कि कोरोनावायरस संक्रमण के चलते देश में लोग डाउन लगा था | जिसके कारण किसानों को बहुत सारी समस्याओं का सामना भी करना पड़ा था | लॉकडाउन के दौरान फसल की कटाई भी प्रभावित हो रही थी, इस दिक्कत को ध्यान में रखते हुए उत्तर प्रदेश सरकार ने दिशा निर्देश जारी किए थे | जिससे की फसल की कटाई प्रभावित ना हो सके, किसानों को सरकार द्वारा फसल की कटाई के लिए जाने की अनुमति प्रदान की गई तथा नियमों को आसान बनाया गया |

 उत्तर प्रदेश सरकार ने सरकारी केंद्रों के अलावा अगर कोई अन्य संस्था या एजेंसी भी किसानों से उनकी फसल न्यूनतम समर्थन मूल्य या फिर उससे ज्यादा कीमत पर खरीदना चाहती है तो उन्हें खरीदने की अनुमति भी दी गई Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana के अंतर्गत | ऐसी संस्थाओं को प्रोत्साहित किया गया था | कोरोनावायरस के चलते यूपी सरकार किसानों के खड़ी रही थी |

किसानों को 2 महीने की मुफ्त में जुताई और बुवाई की सुविधा भी मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के अंतर्गत दी गई थी | सरकार द्वारा सरकारी गेहूं खरीद केंद्र भी आरंभ किया गया | व्यक्तियों को कीटनाशक की दुकानें खोलने की अनुमति दी गई | यह सब सुविधाएं लॉकडाउन के पहले हफ्ते में ही किसानों की दिक्कतों को देखते हुए उनको दी गई थी | लघु और सीमांत किसानों के लिए भी Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana के अंतर्गत सरकार द्वारा ट्रैक्टरों से मुफ्त में खेतों की जुताई और बुवाई कराई गई थी |

उत्तर प्रदेश के पहले चरण में 16 जिलों में यह सुविधा दी गई थी | इसके अलावा सरकार द्वारा तिलहन और दलहन की फसलों के तहत सरसों चना और मसूर का न्यूनतम लघु निर्धारित किया गया और उसकी सरकारी खरीद भी की गई थी | वह सभी किसान अपनी फसल बेचने के लिए मार्केट तक नहीं जा पा रहे थे उनकी फसल सरकार द्वारा Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana के तहत घर से ही खरीदी गई थी |

Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana

लॉकडाउन में सरकार द्वारा किए गए कार्य-

 सरकार द्वारा गेहूं खरीद में सुनिश्चित की गई | 15 अप्रैल 2020 से यह गेहूं की खरीद शुरू हुई थी | यह गेहूं खरीद 90 दिन तक चली थी, जिसके दौरान 3577 लाख मैट्रिक टन गेहूं 1925 प्रति क्विंटल की दर से खरीदा गया था | जिससे कि किसानों के खाते में ₹6685 वितरित किए गए थे |

 किसानों के लिए राज्य और राज्यों से बाहर परिवहन की व्यवस्था भी Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana के तहत प्रदान कराई गई थी | बटाईदार और कॉन्ट्रैक्ट फार्मर के ऊपर भी ध्यान दिया गया था |

किसानों पर मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के अंतर्गत खास ध्यान दिया गया था | उन्हें अधिक सुविधाएं दी गई थी धान का भुगतान सीधे किसानों के अकाउंट में 72 घंटे के अंदर किया गया था |

 बीज कृषि रक्षा रसायनों आदि की बिक्री के लिए इस योजना के तहत दुकान खोलने की अनुमति दी गई थी | कंबाइन हार्वेस्टर और दूसरे उपकरणों पर छूट भी दी गई थी |

 45 लाख मैट्रिक टन गेहूं और धान एमएसपी पर Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana के तहत खरीदे गए थे | 119 चीनी मिल लॉकडाउन के दौरान चलाई गई थी | 11180 गन्ने की पेराई की गई थी, 2.13 करोड़ किसानों को किसान सम्मान निधि योजना का लाभ भी दिया गया था | कम से कम समर्थन मूल्य पर 38717 मेट्रिक टन चने की खरीद की गई थी | दांत के लिए 60000 करोड रुपए डायरेक्ट किसानों के खातों में पहुंचा दिए गए थे | 1264 क्विंटल चीनी का उत्पादन भी किया गया था |

मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना में दी जाने वाली धनराशि क्या है?

Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana के अंतर्गत मध्य प्रदेश सरकार द्वारा ₹2000 की दो बराबर किस टाइम किसान के डायरेक्ट खाते में पहुंचा दी जाएंगी | अब किसान सम्मान निधि योजना के ₹6000 तथा किसान कल्याण योजना के ₹4000 मिलाकर किसानों को हर साल ₹10000 की सरकार की ओर से आर्थिक मदद दी जाएगी | इन ₹10000 में ₹6000 केंद्र सरकार द्वारा दिए जाएंगे और ₹4000 राज्य सरकार द्वारा दिए जाएंगे किसानों को |

मध्य प्रदेश Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana का उद्देश्य-

 इस योजना का मुख्य उद्देश्य यह है कि मध्य प्रदेश के सभी किसानों की आय को बढ़ाना है Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana के जरिए से मध्य प्रदेश सरकार किसानों की आर्थिक मदद करेगी जिससे कि किसानों की इनकम में वृद्धि होगी | इस आर्थिक सहायता की वजह से कर्ज में डूबे किसानों को भी काफी मदद मिलेगी, इस योजना को पीएम किसान सम्मान निधि से जोड़ा गया है | जिससे कि पीएम किसान सम्मान निधि योजना के सभी लाभार्थियों को इस योजना के अंतर्गत कवर किया जा सके |

Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana की विशेषताएं और लाभ क्या है?

  • सरकार द्वारा किसानों की आर्थिक सहायता मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के तहत सरकार द्वारा की जाएगी |
  • आर्थिक सहायता की राशि इस योजना के अंतर्गत ₹4000 होगी |
  • यह ₹4000 दो बराबर किस्तों में दिए जाएंगे |
  • पीएम किसान सम्मान निधि योजना के सभी लाभार्थियों को ना के अंतर्गत कवर किया गया है |
  • अगर आप इस योजना के तहत आवेदन करना चाहते हैं तो आपको पहले पीएम किसान सम्मान निधि योजना के लिए आवेदन करना पड़ेगा |
  • किसानों की आय में मध्य प्रदेश Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana के जरिए से बढ़ोतरी होगी |
  • किसानों की आर्थिक स्थिति में इस योजना के जरिए से सुधार आएगा |
  • राशि सीधे किसानों के बैंक खाते में मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के अंतर्गत पहुंचा दी जाएगी |

एमपी Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana की पात्रता-

  • आवेदन करने वाला व्यक्ति इस योजना के अंतर्गत मध्यप्रदेश का स्थाई निवासी होना जरूरी है |
  • आवेदक जो है वह किसान होना जरूरी है |
  • आवेदक पीएम किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत रजिस्टर होना चाहिए इस योजना के अंतर्गत |
  • आवेदक जो है लघु सीमांत किसान भी होना जरूरी है |
  • आवेदक के पास खेती करने के लिए भूमि का होना बहुत जरूरी है जिसमें वह खेती करता हो |

Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज-

  • पीएम किसान योजना का रजिस्ट्रेशन नंबर
  • आधार कार्ड
  • मूल निवास प्रमाण पत्र
  • किसान विकास पत्र या फिर किसान क्रेडिट कार्ड
  • राशन कार्ड

Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana आवेदन की प्रक्रिया क्या है? मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री योजना के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो आपको पीएम किसान सम्मान निधि योजना का लाभ होना बहुत ही जरूरी है | अगर आपने पीएम किसान सम्मान निधि योजना के लिए आवेदन नहीं किया है तो आप इसके लिए आवेदन करके मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना का लाभ ले सकते हैं | आवेदन करने की प्रक्रिया इस योजना के अंतर्गत निम्न प्रकार है |

  • सबसे पहले आपको ऑफिशल वेबसाइट पर जाना होगा |
  • फिर आपके सामने होम पेज खोलकर आ जाएगा |
  • होम पेज पर आपको फार्मर कॉर्नर के ऑप्शन पर क्लिक करना पड़ेगा |
  • फिर आपको न्यू फार्मर रजिस्ट्रेशन के लिंक पर क्लिक करना होगा |
  • इसके पश्चात आपके सामने फार्मर रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुलकर आ जाएगा |
  • आपको इस फॉर्म में आधार नंबर तथा इमेज कोड भरना होगा |
  • इसके बाद आपको सर्च के बटन पर क्लिक करना पड़ेगा |
  • फिर आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुलकर आएगा |
  • आपको इस फॉर्म में पूछी गई सारी जानकारी सही-सही भरकर सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा |
  • इस प्रकार आप मध्य प्रदेश Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana के लिए आवेदन कर सकेंगे |

एमपी मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना लाभार्थी सूची-

 अगर आप मध्य प्रदेश Mukhyamantri Kisan Kalyan Yojana के लाभार्थी सूची देखना चाहते हैं तो आपको प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के लाभार्थी सूची देखनी पड़ेगी | क्योंकि अभी लाभार्थी जिनको पीएम किसान सम्मान निधि योजना का लाभ मिल रहा है उनको मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना का लाभ दिया जाएगा | मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के लाभार्थी सूची देखने हैं |

  • ऑफिशल वेबसाइट पर जाना पड़ेगा |
  • फिर आपके सामने होम पेज खुलकर आ जाएगा |
  • होम पेज पर आपको ऑप्शन पर क्लिक करना पड़ेगा |
  • अब आपको बेनिफिशियरी लिस्ट लिंक पर क्लिक करना होगा |
  • इसके बाद आपके सामने खुलकर आ जाएगा जिसमें आपको अपने राज्य, डिस्टिक, ब्लॉक, सब डिस्टिक, और गांव का चयन करना पड़ेगा |
  • फिर आपको गेट रिपोर्ट के लिंक पर क्लिक करना होगा |
  • इस तरह से लाभार्थी सूची आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर आ जाएगी |

कांटेक्ट

  • सर्वप्रथम आपको योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा | अधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खोलकर आ जाएगा |
  • इस होम पेज पर आपको Contact us  का विकल्प दिखाई देगा | आपको इस विकल्प पर क्लिक करना होगा | विकल्प पर क्लिक करने के पश्चात आपके सामने एक और अगला पेज खुल कर आ जाएगा |
  • इस पेज पर आपको सारे कांटेक्ट डिटेल्स मिल जाएगी |

Read more info >> (prd.mp.gov.in) एमपी पंचायत दर्पण पोर्टल

Leave a Comment