Rajasthan Navjaat Suraksha Yojana 2022: राजस्थान नवजात सुरक्षा योजना क्या है?

Rajasthan Navjaat Suraksha Yojana | राजस्थान नवजात शिशु सुरक्षा योजना | rajasthan navjaat suraksha yojana | navjaat shishu suraksha yojana | navjaat suraksha yojana

Rajasthan Navjaat Suraksha Yojana :- को आरंभ करने का अनाउंसमेंट 9 फरवरी 2020 को राज्य के स्वास्थ्य मंत्री श्री रघु शर्मा जी के द्वारा एम एम एस मेडिकल कॉलेज के ऑडिटोरियम में आयोजित कंगारू मदर केयर कांफ्रेंस के दौरान नवजात शिशु की बेहतर देखभाल के लिए की गई है |

Rajasthan Navjaat Suraksha Yojana

प्यारे दोस्तों आज हम आपको अपने इस आर्टिकल माध्यम से राजस्थान नवजात सुरक्षा योजना के कंप्लीट जानकारी अपने इस आर्टिकल में आपको बताएंगे | तो आपसे निवेदन है कि आप हमारे आर्टिकल के साथ अंत तक बने रहे | राज्य के कम वजन वाले कुपोषित एवं टाइम से पहले जन्मे नवजात शिशु को राज्य सरकार के द्वारा इस Rajasthan Navjaat Suraksha Yojana 2022 के अंतर्गत चिकित्सा लाभ अदा किया जाएगा | जिससे कि राजस्थान में नवजात बच्चों की मौत की दर को कम किया जा सके |

Rajasthan Navjaat Suraksha Yojana 2022 क्या है?

प्यारे दोस्तों आपको बता दें कि चिकित्सा और स्वास्थ्य मंत्री ने कहा है कि कंगारू मदर केयर पद्धति को भी निरोगी राजस्थान का हिस्सा बना दिया जाएगा | और प्रदेश में कोई भी नवजात की मृत्यु ना हो इसके लिए जल्दी ही ट्रेनिंग प्रोग्राम आरंभ करा दिए जाएंगे | इस प्रोग्राम के लिए 77 मास्टर ट्रेनर आरंभ किए गए हैं | जो कि जिला और ब्लॉक स्तर पर जाकर व्यक्तियों को जागरूक किया करेंगे | टाइम टू टाइम पर इस योजना के अंतर्गत नवजात बच्चों की कसक जांच जरूर की जाएगी | कंगारू मदर केयर ट्रीटमेंट को Rajasthan Navjaat Suraksha Yojana के अंतर्गत अपनाया जाएगा | 

Rajasthan Navjaat Suraksha Yojana 2022 अप्लाई-

राजस्थान राज्य के जो भी इच्छुक लाभार्थी राजस्थान आजा सुरक्षा योजना के अंतर्गत अपने नवजात शिशु को स्वास्थ्य संबंधित समस्याओं को दूर करना चाह रहे हैं, तो उन से अनुरोध है कि उन्हें Rajasthan Navjaat Suraksha Yojana 2022 के अंतर्गत अपना बच्चों का आवेदन करवाना होगा |

क्योंकि ऑनलाइन करवाने पर ही वह व्यक्ति इस योजना का लाभ ले सकेंगे | प्यारे दोस्तों राजस्थान में शिशुओं की मृत्यु दर में प्रति 1000 जीवित जन्मो पर 35 मृत्यु हैं | राष्ट्रीय परिवार के अनुसार देखा जाए तो स्वास्थ्य सर्वेक्षण साल 2015 – 16 में राजस्थान मैं शिशुओं की मृत्यु दर प्रति 1000 जेब जन्मों में इकतालीस मृत्यु हैं | आने वाले समय में राजस्थान नवजात सुरक्षा योजना के अंतर्गत नवजात शिशु मृत्यु दर को और कम किया जाएगा | राजस्थान के कम वजन वाले कुपोषित समय से पहले जन्मे बच्चे के स्वास्थ्य का इस योजना के अंतर्गत विशेष ध्यान रखा जाएगा |

Rajasthan Navjaat Suraksha Yojana 2022 की हाइलाइट्स-

योजना का नामRajasthan Navjaat Suraksha Yojana
इसके द्वारा शुरू की गयीस्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा जी के द्वारा
घोषणा की गयी9 फरवरी 2020
लाभार्थीराज्य के नवजात शिशु
उद्देश्यराज्य के नवजात शिशुओं को स्वास्थ्य सुरक्षा प्रदान करना

नवजात सुरक्षा योजना राजस्थान 2021 का मुख्य उद्देश्य-

प्यारे दोस्तों जैसा कि आप सभी व्यक्ति यह जानते हैं कि राजस्थान में ऐसे बहुत सारे नवजात शिशु हैं, जो स्वास्थ्य सही ना होने के कारण उनकी मृत्यु हो जाती है | राजस्थान की सरकार ने कहा है कि प्रदेश में किसी भी नवजात की मृत्यु ना हो इसके लिए इस योजना के अंतर्गत जल्द ही प्रशिक्षण कार्यक्रम आरंभ कर दिया जाएगा |

जन्म लेने वाले बच्चों के स्वास्थ्य का ध्यान रखकर उन्हें सुरक्षा सुविधा उपलब्ध कराना है | जिससे नवजात शिशु की मौत दर में कमी आ सके | नवजात बच्चों को बेहतर चिकित्सा सुविधा प्रदान करके बेहतर स्वास्थ्य प्रदान करना है इस Rajasthan Navjaat Suraksha Yojana के अंतर्गत | स्वास्थ्य विभाग राजस्थान कंगारू मदर केयर तकनीक को बढ़ावा देगा ताकि निरंतर तो जैसे त्वचा संपर्क B या W मां और बच्चे को अदा किया जा सके |

राजस्थान नवजात सुरक्षा योजना के लाभ-

राजस्थान के कम भजन वाले कुपोषित और समय से पहले जन्म में नवजात शिशुओं को इस योजना के अंतर्गत स्वास्थ्य संबंधित सुरक्षा सुविधा अदा की जाएगी |

  • कंगारू मदर केयर में 77 मास्टर ट्रेनर राज्य के लिए स्वास्थ्य कर्मचारियों को प्रशिक्षित करने के लिए जिला और ब्लॉक स्तर पर तैनात किए जाएंगे |
  • प्रदेश भर में लगाए जाने वाले राजस्थान नवजात सुरक्षा योजना के अंतर्गत स्वास्थ्य मित्रों को प्रशिक्षण दिया जाएगा |
  • ताकि राज्य में शिशु की मौत दर को कम किया जा सके |
  • राजस्थान राज्य में आई एम आर और मातृ मृत्यु दर एम एम आर को कम करने के लिए निरोगी राजस्थान अभियान पहले ही आरंभ कर दिया गया है |
  • न्यू राजस्थान नवजात सुरक्षा योजना से शिशु मृत्यु दर को और नीचे लाने में मदद मिलेगी | 
  • स्वास्थ्य विभाग राजस्थान की सरकार ने निरोगी राजस्थान योजना में कंगारू मदर केयर को भी सम्मिलित करने का फैसला लिया है |

Rajasthan Navjaat Suraksha Yojana 2022 में आवेदन कैसे करें?

दोस्तों हम आपको बता दें कि राजस्थान के जिन व्यक्तियों के नवजात शिशु कुपोषित हैं या कम वजन वाले हैं या टाइम से पहले पैदा हुए हैं और वह इस योजना का लाभ लेने के लिए Rajasthan Navjaat Suraksha Yojana 2022 के अंतर्गत आवेदन करना चाह रहे हैं, तो उन्हें अभी थोड़ा इंतजार करना होगा |

क्योंकि दोस्तों हाल ही में इस योजना को आरंभ करने की घोषणा की गई है जैसे ही इस योजना को पूरी तरह से आरंभ किया जाएगा और इस योजना में ऑनलाइन अप्लाई करने की प्रक्रिया और ऑफिशल वेबसाइट को शुरू कर दिया जाएगा | तो उसके बाद ही आप इस योजना के अंतर्गत अपने बच्चे को स्वास्थ्य सुरक्षा शुभ प्रदान करने के लिए आवेदन कर सकते हैं | जब इसकी कोई जानकारी हमें पता चलेगी हम इसकी पूरी जानकारी आपको अपने किस आर्टिकल के जरिए आप तक पहुंचा देंगे |

कंक्लुजन-

प्यारे दोस्तों आज हमने आपको अपने आर्टिकल के माध्यम से Rajasthan Navjaat Suraksha Yojana से संबंधित संपूर्ण जानकारी को प्रदान कर दिया है | फिर भी अगर आप किसी प्रकार की परेशानियां समस्या का सामना कर रहे हैं, तो आप हमें नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके अपनी समस्या का समाधान कर सकते हैं | हम तुरंत ही आपके प्रश्न का जवाब देंगे | प्यारे दोस्तों हमारे आर्टिकल को अंत तक पढ़ने के लिए हम आपके बेहद शुक्रगुजार हैं | 

Read more info >> Pradhan Mantri Rojgar Yojana 2022

Leave a Comment